Hindi Diwas 2022: Best Messages, Quotes, Wishes, Images, Photos and Greetings to share on Hindi Diwas

Hindi Diwas 2022: Best Messages, Quotes, Wishes, Images, Photos and Greetings to share on Hindi Diwas

 Hindi Diwas Ki Shubhkamnaye, Wishes, Images, Shayari, Hindi Diwas Quotes:हिंदी देश की राष्ट्रभाषा है। 14 सितंबर 2022 के दिन को देश भर में हिंदी दिवस के तौर पर मनाया जाता है । इस खास दिन के मौके पर हिंदी के सम्मान और प्रोत्साहन के लिए देश में अलग अलग जगहों पर कार्यक्रमों का आयोजन होता है। हिंदी दुनिया की सरल, समृद्ध और पुरानी भाषाओं में से एक मानी जाती है। हिंदी भारत की राजभाषा भी है। यह देश में सबसे ज्यादा और दुनिया में चौथी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है। हिंदी का साहित्य बेहद समृद्ध है और दुनिया भर में लोकप्रिय भी है।

14 सितंबर 1949 को भारत की संविधान सभा की ओर से हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया था। भारत दशकों की गुलामी से बाहर निकला था और करीब 200 साल तक अंग्रेज यहां पर शासन करके गए थे। ऐसे में ब्रिटिश हुकूमत की ओर से भारत की मुख्य भाषा को दबाने और इसका कमजोर करने की कोशिश की गई। आजादी के बाद भी लोगों की विचारधारा में बदलाव नहीं आया। हिंदी को हीन भावना से देखा जाने लगा और अंग्रेजी बोलने वाले लोगों को उच्च स्तरीय माना जाने लगा। ऐसे में हिंदी को प्रोत्साहित किए जाने की जरूरत थी और इसके लिए कुछ फैसले लिए गए। इन्ही में से एक हिंदी दिवस को मनाए जाने का फैसला था। पिछले 70 साल में हिंदी का सफर जारी है। हिंदी ने हर किसी को जोड़ने का काम किया है जिसे इस कविता के जरिए समझा जा सकता है। 

इस अवसर पर आप भी दोस्तों और करीबियों को हिंदी दिवस की शुभकामनाएं दे सकते हैं – 

 

Hindi Diwas Status 2022

 

Hindi Diwas Status 2020


“  वक्ताओं की ताकत भाषा

लेखक का अभिमान हैं भाषा

भाषाओं के शीर्ष पर बैठी

मेरी प्यारी हिंदी भाषा।  ”

 

“  हिंदी की बिन्दी को

मस्तक पे सजा के रखना है

सर आंखो पे बिठाएंगे

यह भारत मां का गहना है  ”

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं

 

“  हाथ में तुम्हारे देश की शान
हिंदी अपनाकर तुम बनो महान  ”
हिंदी दिवस की शुभकामनाये

 

Hindi Diwas Status 2020


“  हिन्दुस्तान की शान है हिंदी

हर हिन्दुस्तानी की पहचान है हिंदी  ”

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं

 

“  हम सब मिलकर दे सम्मान

निज भाषा पर करें अभिमान

हिंदुस्तान के माथे की बिंदी

जन-जन की आत्मा बने हिंदी  ”

 

Hindi Diwas Status Facebook

 

Hindi Diwas Status Facebook


“  हिंदी दिवस पर हमने ठाना है,

लोगों में हिंदी का स्वाभिमान जगाना है,

हम सबका अभिमान है हिंदी,

भारत देश की शान है हिंदी।  ”

 

“  हिंदी दिवस के अवसर पर आओ पढ़ें और पढ़ायें,
हिंदी है हमारी भाषा आओ इसे अपनाएं।  ”

 

Hindi Diwas Status Facebook


“  हिंदी मेरा इमान है,
हिंदी मेरी पहचान है,
हिन्द हूँ मैं वतन भी मेरा प्यारा हिंदुस्तान है।  ”

 

“  हिंदी है भारत के एकता और अखंडता की पहचान,
हिंदी ही तो है मेरे देश की शान और जान।  ”

 

“  भारत माँ के भाल पर सजी स्वर्णिम बिंदी हूँ,
मैं भारत की बेटी आपकी अपनी हिंदी हूँ।  ”


 

Happy Hindi Diwas Status Whatsapp

 

Happy Hindi Diwas Status Whatsapp


“  अगर भारत का करना है उत्थान,
तो हिंदी को अपनाना होगा,
अंग्रेजी को "विषय-मात्र",
और हिंदी को "अनिवार्य" बनाना होगा।  ”

 

“  निज भाषा का नहीं गर्व जिसे,
क्या प्यार देश से होगा उसे,
वही वीर देश का प्यारा है,
हिंदी ही जिसका नारा है।  ”

 

Happy Hindi Diwas Status Whatsapp


“  हिंदी भाषा नहीं भावों की अभिव्यक्ति है
यह मातृभूमि पर मर मिटने की भक्ति है  ”

 

“  हिंदी से हिन्दुस्तान है,
तभी तो यह देश महान है,
निज भाषा की उन्नति के लिए

अपना सब कुछ कुर्बान है  ”

 

“  जिसमें है मैंने ख्वाब बुने,
जिससे जुड़ी मेरी हर आशा,
जिससे मुझे पहचान मिली,
वो है मेरी हिंदी भाषा।  ”


 

Hindi Diwas SMS

 

Hindi Diwas SMS


“  हिंदी को आगे बढ़ाना है
उन्नति की राह ले जाना है
केवल एक दिन ही नहीं

हमे नित हिंदी दिवस मनाना है  ”

 

“  एक दिन ऐसा भी आएगा
हर तरफ हिंदी का परचम लहराएगा,
इस राष्ट्रभाषा का हर ज्ञाता
विद्वान भारतवासी कहलाएगा।  ”

 

“  होठ खामोश थे सिसकियाँ कह गयी,
द्वार बंद थे खिड़कियाँ कह गयी,
कुछ हमने कहा कुछ हिंदी कह गयी,
जो न कह पायें वो हिचकियाँ कह गयी।  ”

 

Hindi Diwas SMS


“  आज स्याही से लिख दो तुम अपनी पहचान
हिंद हो तुम, हिंदी से सीखो करना प्यार  ”

 

“  हिंदी और हिन्दुस्तान हमारा है और हम इसकी शान हैं,
दिल हमारा एक है और एक हमारी जान हैं।  ”
हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

 

Happy Hindi Diwas Quotes 2022

 

Happy Hindi Diwas Quotes 2020


हिंदी हम सबकी भाषा है। जन-जन की भाषा है। हिंदी के लिए देश-विदेश के बड़े-बड़े विद्वानों ने समय-समय पर अपने विचार व्यक्त किए हैं। आइए जानते हैं वे क्या कहते हैं ............

 

“  हिंदी के द्वारा सारे भारत को एक सूत्र में पिरोया जा सकता है।  ”

                                          महर्षि स्वामी दयानन्द

 

“  हिंदी देश की एकता की कड़ी है।  ”

                                          डॉ. जाकिर हुसैन

 

Happy Hindi Diwas Quotes 2020


“  हिंदी हमारे राष्ट्र की अभिव्यक्ति का सरलतम स्रोत है।  ”

                                          सुमित्रानंदन पंत

 

“  हिंदी पढ़ना और पढ़ाना हमारा कर्तव्य है। उसे हम सबको अपनाना है।  ”

                                          लालबहादुर शास्त्री

 

“  मेरा आग्रहपूर्वक कथन है कि अपनी सारी मानसिक शक्ति हिंदी भाषा के अध्ययन में लगावें। हम यही समझे कि हमारे प्रथम धर्मों में से एक धर्म यह भी है।  ”

                                          विनोबा भावे

 

Hindi Diwas; Hindi Diwas Status 2022; Hindi Diwas Quotes; Happy Hindi Diwas Whatsapp Status; Hindi Diwas Quotations; Happy Hindi Diwas Quotes Whatsapp; Hindi Diwas SMS for Friends; Hindi Diwas Status for Instagram; Hindi Diwas Quotes for Family; Happy Hindi Diwas Messages for Facebook/Whatsapp; Hindi Diwas Shayari; Hindi Diwas Sayings; Hindi Diwas Status Quotes; Happy Hindi Diwas 2022 SMS; Hindi Diwas Insta Messages

 

Hindi Diwas Quotations 2022

 

Hindi Diwas Quotations


“  निज भाषा उन्नति अहै, सब उन्नति को मूल।  ”

                                              भारतेंदु हरिश्चंद्र

 

“  देश की किसी संपर्क भाषा की आवश्यकता होती है और वह (भारत में) केवल हिंदी ही हो सकती है।  ”

                                              श्रीमती इंदिरा गांधी

 

“  हिंदी सरलता, बोधगम्यता और शैली की दृष्टि से विश्व की भाषाओं में महानतम स्थान रखती है।  ”

                                              डॉ. अमरनाथ झा

 

Hindi Diwas Quotations


“  हिंदी उन सभी गुणों से अलंकृत है, जिनके बल पर वह विश्व की साहित्यिक भाषा की अगली श्रेणी में समासीन हो सकती है।  ”

                                                  मैथिलीशरण गुप्त

 

“  समस्त भारतीय भाषाओं के लिए यदि कोई एक लिपि आवश्यक हो तो वह देवनागरी ही हो सकती है।  ”

                                                  (जस्टिस) कृष्णस्वामी अय्यर



Previous Post Next Post